कैसे बनाए फुटवियर (Footwear) क्षेत्र मे कैरियर

कोई भी व्यक्ति सुंदर और स्मार्ट दिखने के लिए अच्छे कपड़े पहनता है, लेकिन कपड़ो की चमक तब की फिकी रहती है, तब तक आप अच्छे फुटवियर न पहन लें। वर्तमान में फुटवियर हमारी ड्रेसिंग का प्रमुख हिस्सा बन गया है। लोगों में विशेषकर युवा वर्ग में फुटवियर का लेकर काफी क्रेज है। कारण यह क्षेत्र दिनों दिन उन्नति कर रहा है और इस क्षेत्र में पेशेवरों की मांग बढ़ती ही जा रही है।

कैसे करे इस क्षेत्र में इंट्री
बारहवी पास कोई भी व्यक्ति इस क्षेत्र कैरियर बना सकता है, कुछ कोर्सो में विज्ञान विषय के साथ बारहवी उत्तीर्ण होना अनिवार्य योग्यता। देश में कई निजी एवं सार्वजनिक संस्थान फुटवियर डिजाइनिंग में स्नातमक, परास्नातमक, डिप्लोमा, सर्टिफिकेट कोर्स कराते हैं।  डिप्लोमा इन फुटवियर डिजाइनिंग एंड प्रोडक्शन, लेदर डिजाइन में बैचलर ऑफ डिजाइन, बीटेक इन फुटवियर टेक्नोलॉजी, डिप्लोमा इन फुटवियर टेक्नोलॉजी, सर्टिफिकेट कोर्स इन शू डिजाइनिंग एंड पैटर्न कटिंग, सर्टिफिकेट कोर्स इन फुटवियर डिजाइन एंड प्रोडक्शन, डिप्लोमा इन लेदर गुड्स एंड एक्सेसरीज डिजाइन जैसे कोर्स इस क्षेत्र से संबंधित कोर्स हैं। इनमें से अधिकतर कार्सों में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा ली जाती है। 

कहां से करें कोर्स
इस क्षेत्र से संबंधित कोर्स सेंट्रल फुटवियर ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट, आगरा, एवीआई स्कूल ऑफ फैशन एंड शू टेक्नोलॉजी, चंडीगढ़, फुटवियर डिजाइन एंड डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट (एफडीडीआई), नोएडा, कॉलेज ऑफ लेदर टेक्नोलॉजी, कोलकाता, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी, नई दिल्ली, इंस्टीट्यूट ऑफ गवर्नमेंट लेदर वर्किंग स्कूल, मुंबई, मुजफ्फरपुर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी जैसे संस्थानों से किए जा सकते हैं।

कहां ढूंढे नौकरी
इस क्षेत्र में अवसरों की अपार संभानाए है। जरूरत है तो आपके अंदर रचनात्मकता, बेहतर एस्थेटिक सेंस एवं बिजनेस करने के हुनर जैसे गुणों की। इससे संबंधित कोर्स करने के बाद फुटवियार डिजाइनिंग के तहत डिजाइनर और मार्केटिंग एवं मैन्युफैक्चरिंग में नौकरी के ढेरों अवसर उपलब्ध हैं। संबंधित कोर्स के अनुसार फुटवियर लाइन बिल्डर, ट्रेड एनालिस्ट फुटवियर टेक्नीशियन, सीनियर प्रोडक्शन कोऑर्डिनेटर या प्रोडक्शन मैनेजर, कॉस्ट एनालिस्ट के रूप में नौकरी की जा सकती है। 

वेतन 
फुटवियर क्षेत्र में नौकरी के अवसर और स्वरूप बहुत भिन्न होते हैं, जिसके कारण वेतन में भी अंतर पाया जाता है। अच्छे एवं प्रतिष्ठित संस्थानों से कोर्स करने वालों को अच्छा सैलरी पैकेज मिलता है। कैरियर के प्रारंभ में 15-20 हजार रुपये प्रत्येक महीने शुरुआत होती है लेकिन अनुभव बढ़ने के साथ-साथ इसमें लाखों रुपयों तक कमाए जा सके है। इस क्षेत्र में अपना व्यवसाय करके भी लाखों रुपयों कमाए जा सकते हैं। 


आप सभी से निवदेन है कि यदि यह पोस्ट आप को अच्छी लगे तो आप इसे  फेसबुक, वाट्सअप गुप तथा अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर अधिक से अधिक शेयर करें ताकि ब्लाॅक का उद्देश्य पूर्ण हो सके।
इस ब्लाॅक की सफलता से प्रभावित होकर इस ब्लाॅग इस ब्लाॅग के चुनिंदा लेखकों को संग्रहित करके ‘सफल बनने की कला’ नामक पुस्तक की रचना की गयी है। पुस्तक में ब्लॉग में दिए गए मोटिवेशनल लेखों को शामिल किया गया है।   पुस्तक का मूल्य 120 रु निर्धारित किया गया है। सफल बनने की कला का उन सभी व्यक्तियों के लिए किया गया है, जो हर हालत में सफल होना चाहते है। पुस्तक ब्लाॅक के पाठकों को 30 प्रतिशत छूट के साथ उपलब्ध है।


पुस्तक खरीदने के इच्छुक पाठक कमेंट बाॅक्स में कमेंट करें। या ईमेल दिए गए पर सम्पर्क करें।
rk_k_computers@yahoo.com
rakeshcomputers@gmail.com



No comments:

Post a comment

स्वयं पोर्टल से घर बैठें करें निःशुल्क कोर्सेज

इंटरनेट के इस दौर में पारंपरिक शिक्षा अर्थात स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी से हायर एजुकेशनल डिग्रीज हासिल करने के अलावा भी विद्यार्थी विभिन्...