लाइब्रेरी साइंस कैरियर का बेहतर विकल्प

पुस्तकें मनुष्य का ज्ञान का प्रमुख स्रोत हैं। पुस्तकों के द्वारा ही प्राचीनकालीन ज्ञान विज्ञान हमारे लिए उपलब्ध है और पुस्तकों के द्वारा ही वर्तमान ज्ञान को अपनी भावी पीढ़ी के लिए संभाल कर कर सकते है। प्रत्येक देश, काल और समाज में पुस्तकों का विशेष महत्व रहा है। वर्तमान में देश के प्रत्येक छोटे से छोटे स्कूल एवं काॅलेज या किसी भी शिक्षण संस्थान में आपको लाइब्रेरी आवश्य देखने को मिलेगी। और जब लाइब्रेरी होगी तो उसका प्रबंधन करने वाले होंगे। लाइब्रेरी साइंस से संबंधित कोर्स करने वाला व्यक्ति लाइब्रेरी का प्रबंधन करता है। आज हम इस पोस्ट में लाइब्रेरी साइंस से संबंधित कोर्स और कैरियर की दृष्टि से उसकी उपयोगिता के विषय में जानकारी प्रस्तुत कर रहे हैं।     


कौन से कोर्स करें
लाइब्रेरी साइंस से संबंधित विभिन्न कोर्सो का संचालन विभिन्न शिक्षण संस्थान द्वारा किया जाता  है। विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों द्वारा लाइब्रेरी और सूचना विज्ञान में सटिफिकेट, डिप्लोमा, डिग्री इत्यादि कराए जाते हैं। बारहवीं पास अभ्यर्थी लाइब्रेरी और सूचना विज्ञान में सर्टिफिकेट तथा डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक करने वाले अभ्यर्थी पुस्तकालय और सूचना विज्ञान में स्नातक की डिग्री कर सकते हैं। मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से बीएलआईएससी या बी.एल.बी. करने वाले विद्यार्थी पुस्तकालय और सूचना विज्ञान में मास्टर डिग्री कर सकते हैं। इसी प्रकार लाइब्रेरी साइंस में मास्टर डिग्री करने के बाद एम.फिल तथा पीएचडी भी की जा सकती है।  

कहां से कोर्स करें
देश में 80 विश्वविद्यालय द्वारा लाइब्रेरी साइंस से संबंधित कोर्स कराए जा रहे है। लाइब्रेरी सांइस से संबंधित कोर्स इलाहाबाद विश्वविद्यालय, अलागप्पा विश्वविद्यालय, कराईकुडी, अन्नामलाई विश्वविद्यालय, अन्नामलायनगर, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, अलीगढ़, बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, झांसी अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय, रीवा, डा भीम राव अम्बेडकर विश्वविद्यालय, आगरा, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी बाबासाहेब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ, गुलबर्गा विश्वविद्यालय, गुलबर्गा, डॉ हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर देवी अहिल्या विश्वविद्यालय, इंदौर, गुरु घासीदास विश्वविद्यालय, बिलासपुर, गुरु नानक देव विश्वविद्यालय, अमृतसर,  एचएनबी गढ़वाल विश्वविद्यालय श्रीनगर - गढ़वाल, जामिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली, जादवपुर विश्वविद्यालय, कलकत्ता, जामिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली, दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली, हैदराबाद विश्वविद्यालय, हैदराबाद, पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़, पंजाब यूनिवर्सिटी पटियाला इत्यदि विश्वविद्यालयों से किए जा सकते हैं। इसके अलावा यूपी राजर्षि टंडन ओपन यूनिवर्सिटी, इलाहाबाद, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, नई दिल्ली से डिस्टेंस एजुकेशन के माध्यम से भी इस संबंधित कोर्स किए जा सकते हैं।

कितना वेतन मिलता है
इस क्षेत्र में वेतन संगठन के प्रकार पर निर्भर करता है। सरकारी प्रतिष्ठानों में नौकरी प्राप्त होने पर इसमें निर्धारित मानकों एवं स्केल के अनुसार वेतन दिया जाता है। इस से संबंधित कोर्स करने वाले यदि इस सरकारी नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं, तो वे समय समय इन कोर्सो से संबंधित पात्रता वाले पदो ंके लिए आवेदन कर सकते हैं।
निजी क्षेत्र शैक्षिक संस्थानां या अन्य संस्थानों जहां भी लाइब्रेरी उपलब्ध है, वहां की लाइब्रेरी में नौकरी करके भी अच्छा खासा वेतन प्राप्त कर सकते हैं। इस प्रकार लाइब्रेरी साइंस में सरकारी और प्राइवेट दोनों क्षेत्रों में नौकरी के विकल्प मौजूद हैं। 

ब्लॉग अच्छा लगे तो जरुर शेयर करें 

No comments:

Post a comment

स्वयं पोर्टल से घर बैठें करें निःशुल्क कोर्सेज

इंटरनेट के इस दौर में पारंपरिक शिक्षा अर्थात स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी से हायर एजुकेशनल डिग्रीज हासिल करने के अलावा भी विद्यार्थी विभिन्...