कैसे बनाए स्पोर्ट्स मैनेजमेंट (Sport Management) में कैरियर

स्पोर्ट्स मैनेजमेंट इंडस्ट्री शिखर को छू रही है। क्रिकेट, हॉकी, कबड्डी, कुश्ती, फुटबॉल, टेबल टेनिस जैसे लीग मैच के कारण स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में दिनों दिन अवसरों की संभावनाएं बढ़ रही है। इस तरह के खेल के आयोजन के समय इसका आयोजन करने वाले प्रफेशनल्स की डिमांड बढ़ रही है। हाल ही में स्पोर्ट्स इंडस्ट्री में तेजी से विकास हुआ है। एक रिपोर्ट के अनुसार, 2022 तक इस फील्ड में 8 लाख स्पोर्ट्स मैनेजमेंट की नौकरियों की जरूरत होगी। स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में अपने कदम जमाने कदम जमाने के लिए योजना, संगठन, निर्देशन, नियंत्रण और नेतृत्व क्षमता का होना अति आवश्यक है। 


इस पोस्ट में हम आपकों स्पोर्ट मैनेजमेंट में किस प्रकार कैरियर बनाया जाए इससे संबंधित जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं। 

कौन-से कोर्स करें
किसी भी मान्यताप्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन के बाद स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएशन का डिप्लोमा किया जा सकता है।

कहां से करें कोर्स
लक्ष्मीबाई नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फिजिकल एजुकेशन, ग्वालियर,  इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल वेलफेयर एंड बिजनेस मैनेजमेंट, कोलकाता, इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ फिजिकल एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स साइंस, दिल्ली, जीवाजी यूनिवर्सिटी इंस्टीट्यूट ऑफ डिस्टेंस एजुकेशन, ग्वालियर जैसे संस्थानों से स्पोर्ट मेनेजमेंट से संबंधित कोर्स किए जा सकते हैं। 

कितनी आय अर्जित की जा सकती है
प्रारंभ में इस क्षेत्र में 15 से 20 हजार रु. तक कमाए जा सकते है और अनुभव के बाद इस क्षेत्र में लगभग 5-6 लाख की भी आय अर्जित की जा सकती है।


इस ब्लाॅक की सफलता से प्रभावित होकर इस ब्लाॅग इस ब्लाॅग के चुनिंदा लेखकों को संग्रहित करके ‘सफल बनने की कला’ नामक पुस्तक की रचना की गयी है। पुस्तक में ब्लॉग में दिए गए मोटिवेशनल लेखों को शामिल किया गया है।   पुस्तक का मूल्य 120 रु निर्धारित किया गया है। सफल बनने की कला का उन सभी व्यक्तियों के लिए किया गया है, जो हर हालत में सफल होना चाहते है। पुस्तक ब्लाॅक के पाठकों को 30 प्रतिशत छूट के साथ उपलब्ध है।


पुस्तक खरीदने के इच्छुक पाठक कमेंट बाॅक्स में कमेंट करें। या ईमेल दिए गए पर सम्पर्क करें।
rk_k_computers@yahoo.com
rakeshcomputers@gmail.com



No comments:

Post a comment

स्वयं पोर्टल से घर बैठें करें निःशुल्क कोर्सेज

इंटरनेट के इस दौर में पारंपरिक शिक्षा अर्थात स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी से हायर एजुकेशनल डिग्रीज हासिल करने के अलावा भी विद्यार्थी विभिन्...